Insurance Kya Hai | Life and General Insurance

Insurance क्या होता है?

Insurance (बीमा) को समझने के लिए पहले दो Term समझते हैं । इसमें दो पक्ष होते हैं । Insurer (बीमाकर्ता) और Insured (बीमित) । जिसमें Insured वह पक्ष होता है जो Insurer पक्ष को एक अवधि के लिए होने वाले Insurance के लिए Premium का भुगतान करता है । दोनों के बीच समझौता होता है कि Insurance की अवधि के दौरान, Insurer, Policy के नियम और शर्तों के अनुसार Insured को हुई कोई हानि, क्षति या मृत्यु का मुआवजा प्रदान करता है । बीमित व्यकित को मुआवजा Insurance की Terms और Conditions को संज्ञान में रखते हुए प्रीमियम के भुगतान के बदले में किया जाता है । बीमा Policy इस सिद्धांत पर शुरू की गयी हैं की "हम भविष्य में होने वाली दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं को रोक नहीं सकते हैं लेकिन उनकी भरपाई के लिए अपने आपको सुरक्षित कर सकते हैं ।"

Type of Insurance? बीमा कितने प्रकार के होते हैं?

बीमाकर्ता कंपनी और बीमित के बीच हुए अनुबंद के आधार पर Insurance को दो प्रकार से बाँट सकते हैं; वह अनुबंद जिसमे बीमित (Insured) की ज़िन्दगी (Life) का जोखिम सुरक्षित होता है उसे Life Insurance कहते हैं, और जिस अनुबंध में बीमित की ज़िन्दगी के आलावा कुछ भी (वाहन, संपत्ति, घर, यात्रा, फसल, स्वास्थ्य इत्यादि) सुरक्षित होता है उसे General Insurance की श्रेणी में रखा जाता है हम किस चीज का बीमा करवा रहे हैं उसके आधार पर आज मार्किट में अनेक प्रकार के बीमा उपलब्ध हैं. हम अपनी कमाई को इकठ्ठा करके पैसे जोड़कर कुछ चीज घर के लिए लेते हैं और किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना से हमारा पूरा बजट डगमगा सकता है, इसलिए हमें अलग अलग चीजों को सुरक्षित करनी जरुरत होती है. अगर भविष्य में ऐसी कोई घटना होती है तो Insurer कंपनी हमारे द्वारा दिए गए Premium के बदले एक निश्चित राशि मुआवजे के रूप में प्रदान करती है. इस राशि को Sum Insured कहा जाता है. आपके लिए कौन सा insurence करवाना अत्यंत आवश्यक है यह निश्चित करने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन आपकी यह जरुरत मौजूदा स्तिथि के अनुसार अलग-अलग हो सकती है. यहाँ मैं आपको अलग-अलग प्रकार के मुख्य बीमाओं के बारे में बताने वाला हूँ.

1. What is Life Insurance? जीवन बीमा क्या होता है?

अगर आप जोखिम भरा कोई काम करते हैं या फिर आपको अपने काम से इधर-उधर जाना पड़ता है और अगर आपके परिवार के सदस्य आर्थिक रूप से आप पर निर्भर हैं तो Life Insurance आपके लिए बहुत जरुरी है. सोचो ! भगवान न करे ऐसा हो, लेकिन अगर दुर्भाग्यवश आपके साथ कोई हादसा हो जाये या कोई गंभीर बीमारी हो जाये और आपकी मौत हो जाये ! उस परिस्तिथि में आपके परिवार का क्या होगा. आपकी मौत के पश्चात् आपकी सैलरी या पेंशन आपके परिवार का खर्च चलने के लिए भी पर्याप्त नहीं होगी और परिणाम यह होगा की आपके परिवार को एक संकटपूर्ण आर्थिक समस्या से जूझना पड़ेगा. Life Insurance इस परिस्थिति में आपके परिवार की आर्थिक कमजोरी में सहायक सिद्ध होता है और आपके परिवार के बुरे वक्त में उनकी सहायता करता है.
There are Two types of Life Insurance Policy जीवन बीमा दो प्रकार का होता है:
  1. Whole Life Policy (सम्पूर्ण जीवन पॉलिसी)
    • इस प्रकार की Policy में आप अपनी मृत्यु तक Premium जमा करते हैं. आपके Nominee (वारिश) को केवल आपकी मृत्यु उपरांत ही Sum Insured या मुआवजा दिया जाता है.
  2. Term Life Policy (टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी)
    • इस तरह की Policy में आप एक निश्चित समय (आपके द्वारा ली गयी पॉलिसी पर निर्भर करता है) तक ही Premium भरते हैं. इस तरह की पॉलिसी खरीदते वक्त किसी एजेंट या Finencial Advisor से सलाह लेन बेहतर रहता है ताकि वह आपको अलग अलग प्लान के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान कर सके. जिससे आप अपनी असली आवश्यकता के अनुसार पॉलिसी का चुनाव कर सकें
Life Insurance के आलावा सभी Insurance को General Insurance की श्रेणी में रखा जा सकता है.

2. What is Motor Insurance? वाहन बीमा क्या होता है?

अगर आपके पास कोई Bike (मोटर-साइकल), Car (कार) या कोई Commercial Vehicle (व्यावसायिक वाहन) है तो आपको Motor Insurance की आवश्यकता है. यह केवल इसलिए जरुरी नहीं है कि सरकार के नियमानुसार वाहन का बीमा रखना आवश्यक है, बल्कि इसके आलावा कुछ और कारण भी हैं. बहुत से लोग वर्षों की कड़ी मेहनत और वचत के बाद अपनी खुद की गाड़ी खरीदते हैं, कुछ लोगो के लिए उनकी गाड़ी ही कमाई का साधन होती है और काफी लोगों के काम पर जाने का साधन उनकी गाड़ी ही होती है. अगर किसी दुर्घटना में आपकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो जाती है और आपके पास इसकी मरम्मत करवाने के लिए या नयी गाड़ी लेने के लिए पर्याप्त धन नहीं है तो आपको आजीविका चलाना काफी मुश्किल हो जायेगा. ऐसी परिस्तिथि में Insurance Company आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होती है. दूसरी ओर अगर दुर्घटना में आपकी गलती पायी गयी और आपको सामने वाली पार्टी की क्षति की भरपाई के लिए दण्डित किया जाता है तो यह आपके लिए काफी महंगा पड़ेगा. ऐसी स्तिथि में भी Insuance Comapany आपकी आर्थिक रूप से मदद करती है.

3. What is Health Insurance? स्वास्थ्य बीमा क्या होता है?

Health Insurance भी मुख्य बीमाओं में एक है जिसकी एक्सपर्ट लोग सलाह देते हैं. हेल्थ इंस्युरेन्स एक ऐसा इंस्युरेन्स होता है जो बीमित व्यक्ति को हुई बीमारी में दवाई या शल्य चिकित्सा का खर्च उठाने में मदद करता है. हेल्थ इंस्युरेन्स बीमित द्वारा बीमारी, चोट या फिर किसी रोग में किये गये खर्च को या तो Reimburse (बीमित को लौटता है) करता है या फिर इलाज करने वाली संस्था को सीधा भुगतान करता है. यह अक्सर लोगों को लुभाने के लिए नौकरी देते वक्त नियोक्ता कम्पनी लाभ पैकेज में शामिल करके देती हैं. यदि आपको कोई पुराणी बीमारी भी है तो उस स्तिथि में भी Health Insurance (स्वास्थ्य बीमा) आपको बेहतर देखभाल करने में आपकी मदद करता है. अगर आपका स्वास्थ्य अच्छा भी है और आपको अक्सर इलाज करने की जरुरत नहीं पड़ती है. उस स्तिथि में कम-से-कम आप एक ऐसी पॉलिसी खरीद सकते हैं जो गंभीर चिकित्सा की स्तिथि में आपकी सहायता कर सके. एक सस्ता Health Insurance ढूंढना थोड़ा सा मुश्किल हो सकता है खासकर जब आपको पहले से कोई बीमारी है. ऐसी स्तिथि में एक एजेंट या सलाहकार से परामर्श करना आपके लिए फायदेमंद होगा.

4. What is Home Insurance? घर का बीमा क्या होता है?

Home Insurance जिसे अक्सर घर के मालिक का बीमा कहा जाता है, यह एक प्रकार का Property Insurance (संपत्ति बीमा) है जो आपके निजी आवास को सुरक्षित करता है. यह एक ऐसा बीमा है जिसमे अलग-अलग प्रकार की Personal Insurance Protections (व्यक्तिगत बीमा सुरक्षाओं) को सम्मिलित किया जाता है, जिसमे किसी के घर में होने वाली हानि, घर में रखे सामान की हानि, इत्यादि सम्मिलित हो सकती है. एक 'घर" लोगों की वर्षों की कमाई होती है, और कुछ लोगों के लिए तो घर ही सब-कुछ होता है. इसलिए जहा पर भूकंप (EarthQuake) जैसी समस्या होती है या आपके घर को नुकसान का खतरा रहता है, उस जगह पर यह बीमा करवाना अतिआवश्यक है. इसके आलावा Home Insurance आपके घर को प्राकृतिक आपदाओं (Natural Calamities) से तो सुरक्षित करता ही है उसके साथ-साथ एक सामान्य पॉलिसी में आप खुद भी सुरक्षित होते हैं

5. What is Travel Insurance? यात्रा बीमा क्या है?

Travel Insurance एक ऐसा बीमा है जो आपकी यात्रा के दौरान होने वाली कुछ वित्तीय जोखिम (Financial Risk) और नुकसानों से आपको सुरक्षित करता है. यह नुकसान छोटे-मोठे नुकसान हो सकते हैं, जैसे बिलम्बित सूटकेस, और कुछ महत्वपूर्ण चीजें जैसे अंतिम क्षणों में यात्रा रद्द होना या विदेश में चिकित्सीय आपात स्तिथि इस सभी में Travel Insurance आपके लिए लाभकारी होता है. वित्तीय सुरक्षाओं के आलावा travel Insurance का दूसरा लाभ यह भी है की इसकी मदद से आप Assistance Services (सहायक सेवाओं) तक आसानी से पहुँच सकते हैं, चाहे आप दुनिया में कहीं भी हों. यदि आपने यात्रा का आंशिक या पूर्ण रूप से भुगतान कर दिया है और आपको किसी कारणवश यात्रा को रद्द करने या फिर बीच में ही यात्रा छोड़कर घर वापस लौटने की आवश्यकता होती है तो Travel Insurane आपके Pre-paid (पूर्व-भुगतान) और Non-refundable (गैर-वापसी) योग्य हिस्से के लिए Trip-cancellation (यात्रा रद्द) और Trip-intruption (यात्रा रूकावट) कवरेज प्रदान करता है. यदि आप विदेश में यात्रा करते समय बीमार पड़ जाते हैं या जोखिम हो जाते हैं, तो अधिकांश घरेलु (Domestic) हेल्थ इंस्युरेन्स प्लान कवरेज क्षेत्र के बहार कोई कवरेज प्रदान नहीं करती हैं या फिर बहुत कम प्रदान करती हैं. Travel Insurance कंपनियां, अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा कवरेज में माहिर होती हैं.
Travel Insurance प्लान में मुख्य रूप से निम्नलिखित जोखिम कवर किये जाते हैं :
  • चिकित्सा सुविधा में हुए परिवहन खर्च सहित चिकित्सा उपचार
  • यात्रा रद्दीकरण या रुकावट
  • यदि आपका समान या यात्रा के दस्तावेज खो जाए, चोरी हो जाए या क्षतिग्रस्त हो जाए
  • दुर्घटनापूर्वक मृत्यु, चोट या विकलांगता की स्तिथि में लाभ

दोस्तों उम्मीद करता हूँ आपको Life Insurance और General इन्शुरन्स और उसके अलग अलग प्रकार के बारे में अच्छे से समझ आया होगा. फिर भी अगर आपका पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं. इस ब्लॉग पर आपको Technical. Educational. Science से सम्बंधित जानकारी मिलती रहेगी Latest Updates के नोटिफिकेशन पाने के लिए ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें ! अंत में एक रिक्वेस्ट, अगर आपको जानकारी उपयोगी लगी हो तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ! आपका समय देने के लिए शुक्रिया ! (-:

Post a Comment

0 Comments